Sunday, May 14, 2017

50 करोड़ प्रकाशवर्ष दूर स्थित एक-दुसरे की ओर भागती आकाशगंगाओं की जोड़ी



अमेरिकी अन्तरिक्ष संस्था और यूरोपियन अन्तरिक्ष संस्था द्वारा विगत दिनों अद्भुत चित्र जारी किया गया . पृथ्वी से कल्पना से परे 50 करोड़ प्रकाशवर्ष की दूरी में स्थित हेयर तारामंडल के लिए गए इस चित्र में एक अद्भुत आकाशगंगा या गैलेक्सी (IRAS 06076-2139) नजर आ रही है. इस आकाशगंगा की सबसे ख़ास बात यह है कि यह एक नजर आने वाली आकाशगंगा वास्तव में दो आकाशगंगाएं हैं जो २० लाख किलोमीटर प्रति घंटे की तीव्र गति से एक दूसरी की ओर तेजी से बढ़ रही हैं.

वैज्ञानिकों के अनुसार इनकी गति इतनी अधिक तेज है कि इनका आपस में एक-दुसरे से विलय होकर एक आकाशगंगा का रूप लेना असंभव प्रतीत होता है.

इन आकाशगंगाओं के बीच केवल २० प्रकाशवर्ष की दूरी है जिसके कारण ये वर्त्तमान में दो अलग आकाशगंगाएं ही बनी हुई हैं और शायद आगे भी अलग ही रहेंगी. परन्तु इतनी कम दूरी की वजह से जब वे एक दुसरे के बिलकुल समीप से गुजरेंगी तो इनके रूप में तीव्र गुरुत्वाकर्षण प्रभाव से विकृति आना अवश्यभावी है जो इनकी संरचना में बड़े पैमाने में परिवर्तन लेकर आएगा.

आप भी देखिये अतुल्य-अद्भुत-असीमित अन्तरिक्ष का यह खूबसूरत दृश्य.

1 comment:

  1. हैलो सर बहुत अच्छी जानकारी है शुक्रिया.
    मेरा एक सवाल है जो मुझे काफी दिनों से बहुत परेशान कर रहा है.
    एक प्रकाश वर्ष यानि एक साल में प्रकाश द्वारा तय की जाने वाली दूरी एक साल में प्रकाश जितना चलता है उसे प्रकाश वर्ष कहते हैं.
    हम किसी भी चीज़ को तभी देख पाते हैं जब प्रकाश उस चीज़ से टकराकर वापस आता है तो जब प्रकाश वापस आता है तो वो अपनी रफ़्तार से आता है जितनी भी होती है अगर कोई चीज़ एक मिनट प्रकाश की दुरी पर है तो वो हमें एक मिनट बाद ही दिखाई देगी लेकिन नासा कैसे करोड़ों प्रकाश वर्ष दूर ग्रहों को देख लेती है जबकि वहां से प्रकाश आने में करोड़ों साल लगेंगे. या अगर वहाँ से लगातार प्रकाश भी आ रहा होगा तो नासा को वर्तमान की स्तिथि कैसे पता जबकि प्रकाश तो करोड़ों साल पहले चला था.

    ReplyDelete

इस लेख और ब्लॉग के सम्बन्ध में आपके मूल्यवान विचारों का स्वागत है -
----------------------------------------------------------------------------------------------